Sunday, August 07, 2005

मसूरी मे सूर्यास्त का नजारा



शाम का धुंधलका छाने लगा था, दूर कंही देहरादून शहर की बत्तिया टिमटिमाती दिखायी दे रही थी. किसी भी कैमरे से देहरादून साफ नही दिखायी देता, मैने कई बार कोशिश की, कृपया फोटो को जूम करके देखें.तब शायद आपको दून वैली कुछ साफ दिखायी दे.एक और कोशिश करते है


चित्रः होटल के लान से दून वैली का नजारा

औ‌र हाँ मै होटल पदमिनी निवास मे रूका था, जो मसूरी को सबसे पुरानी इमारतों मे से एक है और आजकल एक हैरिटेज होटल है.

1 comment:

Neeraj said...

ये लो कर लो बात. दिल्ली से इतना पास है मसूरी और एक मैं हूं कि गया ही नही. आप हो आये. ये नज़ारें देखकर तो दिल करता है कि हम भी घूम आयें. और भी फ़ोटो दिखाओ भाई